जांच के लिए विदेश भेजा जाएगा ‘ब्लैक बॉक्स’: इथोपिया विमान हादसा

इथोपिया में उड़ान भरने के कुछ मिनटों बाद हादसे के शिकार बोइंग विमान का ‘ब्लैक बॉक्स’ जांच के लिए विदेश भेजा जाएगा लेकिन अभी यह तय नहीं है कि यह कहां जाएगा। इथोपियन एयरलाइंस के एक प्रवक्ता ने बुधवार को यह जानकारी दी। प्रवक्ता ने यह बयान ऐसे समय दिया जब दुनिया के कई देशों ने इस विमान मॉडल के परिचालन पर रोक लगा दी है। प्रवक्ता असरत बेगाशॉ ने साक्षात्कार में कहा कि हमारे पास विमान के अंतिम क्षणों का डेटा और आवाज की रिकार्डिंग को लेकर ”कई विकल्प हैं” लेकिन हमारे पास यहां इथोपिया में इसकी जांच की क्षमता नहीं है।”

गौरतलब है कि बोइंग 737 मैक्स 8 विमान रविवार को उड़ान भरने के थोड़ी देर बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिससे इसमें सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई थी। बीते पांच महीनों में मैक्स 8 विमान से जुड़ा यह दूसरा हादसा है। पिछले साल इंडोनेशिया में हुए लॉयन एयर हादसे में 189 लोगों की मौत हुई थी। कुछ उड्डयन विशेषज्ञों ने चेताया है कि इस हादसे के कारणों का पता लगाने में कई महीने लग सकते हैं। इस बीच, लेबनान और कोसोवो ने अपने वायुक्षेत्र में बोइंग ‘737 मैक्स 8 विमान’ पर रोक लगा दी। ‘नार्वे एयर शटल्स’ ने कहा कि वह बोइंग कंपनी से मुआवजा मांगेगी क्योंकि इस सस्ती एयरलाइन ने इस कंपनी के विमानों के परिचालन पर रोक लगा दी है। अमेरिकी कंपनी बोइंग ने कहा है कि विवादित विमान मॉडल को सेवा से हटाने का कोई कारण नहीं है और उसका इरादा ग्राहकों को विमान के बारे में कोई नए सुझाव जारी करने का नहीं है।

बोइंग के सीईओ डेनिस मुइलेनबर्ग ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बात की और दोहराया कि ‘737 मैक्स 8 विमान सुरक्षित हैं। बोइंग कंपनी का तकनीकी दल इथोपियाई अधिकारियों के नेतृत्व वाली जांच से जुड़़ गया। इस जांच से अमेरिकी, इस्राइली, केन्याई और अन्य उड्डयन विशेषज्ञ पहले से जुड़े हुए हैं। संघीय उड्डयन प्रशासन (एफएए) के एक अधिकारी डेनियल के एल्वेल ने एक बयान में कहा कि अब तक हमारी जांच में प्रणाली के संचालन संबंधी कोई खामी नहीं पता चली है और इन विमानों पर रोक के आदेश का कोई आधार नहीं है। इस बीच, कुछ और शोकसंतप्त परिवार बुधवार को घटनास्थल पर पहुंचे

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.