किस्सा 1985 का: जब राजीव गांधी निकले थे जनता से मिलने खुली जीप में

Lok Sabha Elections: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का रूठे नेताओं को मनाने का अंदाज बेहद निराला था। वह उन्हें संगठन की कोई न कोई अहम जिम्मेदारी सौंप देते थे। वर्ष 1985 में विधानसभा चुनाव के दौरान टिकट को लेकर कांग्रेस नेताओं में विवाद पैदा हो गया। इसी दौरान हरिद्वार के भल्ला कॉलेज मैदान में राजीव की चुनावी सभा रखी गई।

पूर्व विधायक रामयश ने बताया कि जौलीग्रांट एयरपोर्ट परिसर में ही राजीव गांधी ने उन्हें बुलवा लिया था। उन्होंने टिकट कटने से नाराज रामयश को समझाया और वादे के अनुसार चुनाव के बाद एमएलसी भी बनवा दिया। रामयश बताते हैं कि हरिद्वार के कई लोग राजीव से सीधा मिलना चाहते थे। उन्होंने लोगों की मंशा राजीव को बता दी। वह लोगों के बीच जाने के लिए तैयार हो गए। हर की पैड़ी पर एक खुली जीप मंगाई गई।

रास्ते में कई लोगों ने राजीव गांधी को जूस और खाने-पीने का सामान दिया। बगैर किसी परहेज के उन्होंने लोगों से मिली चीजों का स्वाद लिया। राजीव गांधी जीप में खड़े-खड़े स्थानीय राजनीतिक हालात की भी जानकारी लेते रहे। भल्ला कॉलेज मैदान में चुनावी सभा में वह सबसे पहले गंगा की स्वच्छता को लेकर बोले। बाद में प्रधानमंत्री बनने के बाद इस दिशा में काफी काम भी किया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.